उत्तर-प्रदेश

हाईवे पर शॉल में बंधा मिला था शव

उन्नाव की गंगाघाट कोतवाली के आजाद मार्ग स्थित महेश खेड़ा और कटहा गांव के सामने बीते शुक्रवार को हत्या कर एक अधजले युवक का शव शॉल से लिपटा मिला था। पुलिस ने शव की शिनाख्त कराने का काफी प्रयास किया लेकिन उसकी पहचान नहीं हो सकी। शव का पोस्टमार्टम कराया गया। जिसमें मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो सका। जिस पर विसरा सुरक्षित रखा गया है।

आजाद मार्ग के किनारे लगभग 40 वर्षीय युवक का अधजला शव आजाद मार्ग के किनारे खाई में लिपटा मिला था। शव की शिनाख्त न होने पर पुलिस ने शव मॉर्चरी में रखवाया था। 72 घंटे पूरे होने पर डॉक्टरों के पैनल ने पोस्टमर्टम किया। जहां डॉक्टरों ने बताया कि मौत का कारण स्पष्ट नहीं हो सका है। जिसपर विसरा सुरक्षित रखा गया है।

विसरा को विधि विज्ञान प्रयोग शाला जांच के लिये भेजा जायेगा। जिसके बाद मौत का सही कारण पता चल सकेगा। कोतवाली प्रभारी अवनीश कुमार सिंह ने बताया कि पोस्टमार्टम में मौत कारण स्पष्ट नहीं हो सका है।

गंगा घाट में अधजला शव मिलने से पुलिस महकमे में हड़कंप मच गया। 100 की शिनाख्त कराने के लिए अब पुलिस डीसीआरबी शाखा की मदद से आसपास के गैर जनपदों में सिपाहियों को भेजा है यदि उन जनपदों में इस तरह की कोई गुमशुदगी दर्ज होगी तो प्रयास कर शिनाख्त कराने की उम्मीद जुटा रही है फिलहाल अभी तक कोई भी सफलता हाथ नहीं लगी है।

हाइवे, बैराज मार्ग, आजाद मार्ग, फोरलेन पर कई अज्ञात शव मिले लेकिन पुलिस आज तक उनकी पहचान नहीं करा सकती है। पिछले साल जाजमऊ चौकी के सामने अज्ञात महिला का शव मिला था।

स्टेडियम पुलिया और धोबी पुलिया में दो महिलाओं के शव मिले थे। उनकी भी शिनाख्त नहीं हो सकी। वर्ष 2019 में बीघापुर थाना क्षेत्र के चौराहे पर युवती का शव मिला था पुलिस अब तक शिनाख्त नहीं करा सकी। साल 2020 में दही थाना क्षेत्र के जंगलों में दो युवतियों का शव मिला था पुलिस उनकी भी पहचान नही करा सकी।

रिपोर्ट- आकाश गुप्ता
Lahar Ujala

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button