उत्तर-प्रदेशबड़ी खबर

शाहजहांपुर: मुस्लिम युवक ने अपनाया हिंदू धर्म, मो. गुलनाज से बने विराट कुमार

शाहजहांपुर। शाहजहांपुर में एक मुस्लिम युवक ने मंदिर में हिंदू धर्म अपना लिया। सबसे पहले युवक को नहाया गया। उसके बाद गंगा जल से स्नान कराने के बाद श्रीराम का फटका पहनाकर हिंदू धर्म में स्वागत किया गया। मंदिर में हनुमान चालीसा के साथ पूजा कराई गई। परिवार में सिर्फ इस युवक ने ही हिंदू धर्म अपनाया है। परिवार के अन्य सदस्यों को इस पर कोई एतराज नहीं है। युवक ने कहा कि दोनों धर्मों की बारीकियों को समझने के बाद हिंदू धर्म अपनाने का फैसला किया है।

शाहजहांपुर के एक मोहल्ले के रहने वाले मुस्लिम परिवार में जन्में गुलनाज ने आज सीताराम मंदिर में हिंदूवादी संगठनों और पुजारी की मौजूदगी में हिंदू धर्म अपना लिया गया है। मंदिर में आज खास इंतजाम किए गए थे। जिसमें गुलनाज को विराट का नाम दिया गया है। मंदिर में सबसे युवक को नहाया गया , उसके बाद गंगा जल से स्नान कराया गया। फिर श्रीराम का फटका पहनाकर हिंदू धर्म में शामिल कर मंदिर में पूजापाठ कराकर गुलनाज से बने विराट को शपथ दिलाई गई। जिसमें कहा गया कि, अब सनातन धर्म के अलावा किसी दूसरे धर्म को नहीं मानेंगे, शादी के बाद जन्म लेने वाले बच्चों के नाम भी सनातन धर्म के अनुसार रखे जाएंगे। इस दौरान मंदिर में मौजूद विहिप के जिलामंत्री समेत अन्य लोगो ने खुशी का इजहार करते हुए जमकर नारेबाजी की।

धर्मों की बारीकियों को समझकर लिया निर्णय

गुलनाज से विराट बने युवक ने कहा कि, पिछले काफी समय से वह दोनो धर्मों को बारीकी से समझ रहा था। उसके बाद हिंदू धर्म अन्य धर्मों से बेहतर लगा। हमारे पूर्वज भी हिंदू थे। अपनी गलतियों के कारण वह अन्य धर्म में चले गए थे। उन्ही गलतियों को सुधारने के लिए आज उसने मंदिर में सभी के बीच हिंदू धर्म में वापसी की है। उसके परिवार में अभी भी सभी मुस्लिम हैं। लेकिन किसी को कोई आपत्ति नहीं है। वह अपने परिवार के साथ उसी मकान में रहेगा। लेकिन अब सिर्फ हिंदू धर्म को ही मानेंगे। वहीं विहिप के जिलामंत्री राजेश अवस्थी ने बताया कि, सनातन धर्म विश्व का सबसे बड़ा धर्म है। पूर्व में तो कोई भी धर्म नहीं था। जो लोग इस्लाम धर्म से कट गए थे, उनको हिंदू धर्म में लाने के प्रयास किये जा रहे हैं।

Lahar Ujala

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button