उत्तर-प्रदेश

आपत्तिजनक टिप्पणी मामले में एमपी पुलिस कव्वाल को पकड़ने आई कानपुर, ठिकानों पर छापेमारी जारी

  • कानपुर पुलिस के अधिकारियों ने कहा, आरोपित पर कार्रवाई में करेंगे एमपी पुलिस का सहयोग

कानपुर। मध्यप्रदेश के भोपाल के रीवा के मंगवा में आयोजित उर्स में कव्वाल ने मंच से भारत के लिए धमकी भरे शब्दों का इस्तेमाल किया था। जिसके बाद से उसके खिलाफ मध्य प्रदेश एफआईआर दर्ज की गई है। उनकी गिरफ्तारी के लिए बुधवार की देर रात कानपुर पहुंची और मुकदमे के आरोपित कव्वाल के ठिकानों पर छापेमारी की। कार्रवाई के दौरान कानपुर पुलिस ने सहयोग करते हुए आरोपित को पकड़ने में जुट गई है।

दरअसल, यह कव्वाल शरीफ परवाज बैकनगंज के दलेलपुरवा कानपुर का रहने वाला है। जिनके खिलाफ मुकदमा दर्ज हो चुका है और अब गृह मंत्री के आदेश के बाद गिरफ्तारी के लिए एमपी की पुलिस कानपुर में डेरा डाले हुए है। फिलहाल एमपी पुलिस ने क्षेत्र में भी पूछताछ की है। कव्वाल घर में मौजूद नहीं हैं।

मामले में कानपुर ज्वाइंट पुलिस आयुक्त (जेसीपी) आनंद प्रकाश तिवारी ने बताया कि एमपी में जनपद के एक कव्वाल द्वारा एक कार्यक्रम के दौरान आपत्तिजनक टिप्पणी की थी। जिस पर उनके खिलाफ मुकदमा दर्ज है और एमपी की पुलिस टीम उन्हें पकड़ने जनपद आई हे। आरोपित को पकड़ने के साथ कार्यवाही में कानपुर पुलिस एमपी पुलिस की पूरी तरह से मदद करेगी।

आपको बता दें कि, सोमवार को रीवा जिले के मनगवां कस्बे में उर्स मेले को लेकर कार्यक्रम का आयोजन किया गया था। जिसमें शामिल होने कानपुर और मुजफ्फरपुर से दो कव्वालों को बुलाया गया था। इस दौरान कानपुर के रहने वाले कव्वाल शरीफ ने हिंदुस्तान को लेकर आपत्तिजनक टिप्पणी की। कव्वाल ने कहा कि मोदी जी कहते हैं हम हैं…, योगी जी कहते है हम हैं…, अमित शाह कहते है हम हैं…, मगर है कौन। अगर गरीब नवाज चाह ले तो इनका पता नहीं चलेगा। कव्वाल यही नहीं रुके उन्होंने आगे कहा कि अगर गरीब नवाज चाह ले तो हिंदुस्तान का पता नहीं चलेगा, कहां बसा था और कहां है…। जिसके बाद एमपी में मामला दर्ज होने के बाद एमपी पुलिस की टीम कव्वाल की तलाश में कानपुर पहुंची है।

Lahar Ujala

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button