उत्तर-प्रदेश

चुनाव नतीजों के बाद पहली बार बोलीं मायावती- ‘उम्मीद के विपरीत आए नतीजे, हमें टूटना नहीं आगे बढ़ना है’

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में मिली करारी हार के बाद पहली बार बीएसपी प्रमुख मायावती ने अपनी प्रतिक्रिया दी. मायावती ने कहा, कल उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव में बसपा की उम्मीद के विपरीत जो नतीजे आए हैं, उससे घबराकर व निराश होकर पार्टी के लोगों को टूटना नहीं है. उसके सही कारणों को समझकर और सबक सीखकर हमें अपनी पार्टी को आगे बढ़ाना है और आगे चलकर सत्ता में जरूर आना है.

मायावती ने आगे कहा, मुस्लिम समाज बसपा के साथ तो लगा रहा परन्तु इनका पूरा वोट समाजवादी पार्टी की तरफ सिफ्ट कर गया, इससे बसपा को भारी नुकसान हुआ… मुस्लिम समाज ने बार-बार आजमाई पार्टी बसपा से ज्यादा सपा पर भरोसा करने की बड़ी भारी भूल की है. मायावती ने कहा कि बाबासाहेब के अनुयायी कभी हिम्मत नहीं हार सकते हैं. मैं कहना चाहूंगी कि अब बुरा वक्त खत्म होने वाला है. हमने जीजान से प्रयास किया और उसके बाद भी यह नतीजा आया है तो फिर इससे बुरा क्या हो सकता है.

मायावती ने स्‍वीकारा, बसपा का जनाधार गिरा

मायावती ने कहा कि मैं बीएसपी के सभी छोटे बड़े पदाधिकारियों और लोगों को धन्यवाद देती हूं, जिन्होंने जी-जान से काम किया है.मायावती ने माना कि बसपा का जनाधार गिरा है और यह हमारे लिए चिंता की बात है. मायावती ने कहा कि, मेरे अपने समाज के अलावा हिंदू समाज की अन्य जातियों का वोट सपा के गुंडों के डर से भाजपा को ट्रांसफर हो गया.

उत्तर प्रदेश चुनाव में बहुजन समाजवादी पार्टी को इस बार भी करारी शिकस्‍त मिली है. बीएसपी को महज एक सीट ही मिल पाई. उत्तर प्रदेश में बीजेपी दूसरी बार सरकार बनाने जा रही है. राज्य में बीजेपी और उउसके सहगोगियों को 273 सीटें मिली हैं. जबकि राज्य में सरकार बनाने के लिए 202 के आंकड़े की जरूरत है. वहीं राज्य में समाजवादी पार्टी और उसके सहयोगियों को 125 सीटों पर ही संतोष करना पड़ा है.

Lahar Ujala

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button