उत्तर-प्रदेशबड़ी खबर

मतगणना केंद्रों की लाइव वेबकास्टिंग के लिए SP का चुनाव आयोग को लेटर, लिखा- गड़बड़ी न हो, निष्पक्ष काउंटिंग हो

उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 के सात चरणों के मतदान पूरे हो चुके हैं. अब 10 मार्च को मतगणना के बाद नतीजे आएंगे. ऐसे में लगातार समाजवादी पार्टी मतगणना के दौरान किसी भी तरह की धांधली न हो इसपर फोकस बनाए हुए है. एक तरफ जहां समाजवादी पार्टी (एसपी) प्रमुख अखिलेश यादव के दिशा-निर्देश पर सपाई  मतगणना केंद्र पर ईवीएम की पहरेदारी में लगे हैं. वहीं, दूसरी तरफ समाजवादी पार्टी के प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने मुख्य चुनाव आयुक्त को पत्र लिखकर सभी जिलों के निर्वाचन क्षेत्रों में मतगणना प्रक्रिया की वेबकास्टिंग और सभी राजनीतिक दलों को इसके लिए लिंक उपलब्ध कराने की मांग की है. ताकि, मतगणना को लाइव देखा जा सके, जिससे किसी भी तरह की कोई गड़बड़ी व धांधली न हो सके.

चुनाव आयोग को भेजा ये पत्र

सपा प्रदेश अध्यक्ष नरेश उत्तम पटेल ने लिखा है कि उत्तर प्रदेश विधानसभा चुनाव 2022 में प्रदेश के सभी जनपद की हर विधानसभा में मतदान के दिन 50 प्रतिशत से ज्यादा मतदेय स्थलों पर वेबकास्टिंग कराई गई है. वेबकास्टिंग का लिंक भारत निर्वाचन आयोग, मुख्य निर्वाचन अधिकारी और जिला निर्वाचन अधिकारी को दिया गया था. आयोग के अधिकारी मतदान को लाइव देख रहे थे. 10 मार्च 2022 को मतगणना होनी है. प्रदेश के सभी जनपद की हर विधानसभा में मतगणना की वेबकास्टिंग कराई जाए और उसका लिंक राजनीतिक दलों को दिया जाए. जिससे मतगणना को लाइव देख सके. जिससे पारदर्शी, स्वतंत्र, निष्पक्ष मतगणना संपन्न हो सके.

समाजवादी पार्टी मांग करती है कि 10 मार्च 2022 को प्रदेश के सभी जनपद की हर विधानसभा की होने वाली मतगणना की वेबकास्टिंग कराई जाए और भारत निर्वाचन आयोग, मुख्य निर्वाचन अधिकारी, जिला निर्वाचन अधिकारी सहित राजनीतिक दलों को उसका ‘लिंक’ उपलब्ध कराया जाए. जिससे कि राजनीतिक दल मतगणना को ‘लाइव’ देख सके और मतगणना पारदर्शी, स्वतंत्र, निष्पक्ष संपन्न हो सके.

अखिलेश यादव ने भी किया ट्वीट

वहीं, समाजवादी पार्टी (एसपी) अध्यक्ष अखिलेश यादव ने ट्वीट करते लिखा कि लिख रहा हूं ये सोचकर कि शायद जागेगा जमीर, बेखबर से हो गये हैं न जाने क्यों कुछ खबरनवीस.

403 विधानसभा सीटों के लिए 7 चरणों में मतदान हुआ

बता दें, उत्तर प्रदेश की 403 विधानसभा सीटों के लिए 7 चरणों में मतदान हुआ और पहला चरण 10 फरवरी को और सातवां चरण सात मार्च को था. पहले चरण में 62 फीसदी तो दूसरे चरण में 64 फीसदी वोटिंग हुई. वहीं, तीसरे 61.61 में तो चौथे में 60.70 फीसदी वोटिंग हुई. बात की जाए पांचवें चरण की तो उसमें 57.32 फीसदी मतदान हुए. उधर, छठे चरण में 55.7 फीसदी वोटिंग हुई. सातवें चरण में 57.53 फीसदी मतदान हुए. अब दस मार्च को मतगणना होनी है.

Lahar Ujala

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button