बड़ी खबरराष्ट्र-राज्य

दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता बने PM मोदी, 13 वैश्विक नेताओं के अप्रूवल रेटिंग चार्ट में किया टॉप

अमेरिका में मौजूद ग्लोबल लीडर अप्रूवल ट्रैकर मॉर्निंग कंसल्ट ने वैश्विक नेताओं की अप्रूवल रेटिंग जारी कर दी है. इस बार प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रेटिंग सबसे अधिक है और वह 77 फीसदी अप्रूवल रेटिंग के साथ दुनिया के सबसे लोकप्रिय नेता बने हुए हैं. 18 मार्च को मॉर्निंग कंसल्टेंट पॉलिटिकल इंटेलिजेंस ने अपना लेटेस्ट डेटा जारी किया. इसमें कहा गया कि पीएम मोदी की अप्रूवल रेटिंग 13 देशों के नेताओं में सबसे अधिक है. ये दिखाता है कि प्रधानमंत्री की लोकप्रियता कितनी अधिक है.

रिसर्च कंपनी द्वारा किए गए सर्वे में दुनिया के 13 नेताओं में पीएम मोदी 77 फीसदी अप्रूवल रेटिंग के साथ लिस्ट में सबसे ऊपर हैं. इसके बाद मेक्सिको के एंड्रेस मैनुअल लोपेज ओब्रेडोर का नंबर आता है, जिनकी अप्रूवल रेटिंग 63 फीसदी है. इटली के मारिया द्राघी की अप्रूवल रेटिंग 54 फीसदी है. वहीं, जापान के फुमियो किशिदा को 45 फीसदी की अप्रूवल रेटिंग मिली है. पीएम मोदी की डिसअप्रूवल रेटिंग भी सबसे कम 17 फीसदी है. डेटा से पता चलता है कि भारतीय प्रधानमंत्री जनवरी 2020 से मार्च 2022 तक अधिकांश महीनों के लिए सबसे लोकप्रिय वैश्विक नेता बने रहे. लेटेस्ट अप्रूवल रेटिंग 9 से 15 मार्च 2022 तक इकट्ठा किए गए आंकड़ों पर आधारित हैं.

बाइडेन, जॉनसन और ट्रूडो का क्या है हाल?

पिछले दो सालों में 2 मई 2020 को पीएम मोदी की अप्रूवल रेटिंग 84 फीसदी के उच्च स्तर तक पहुंची. देश में कोरोनावायरस की दूसरी लहर के दौरान उनकी अप्रूवल रेटिंग 7 मई 2021 को 63 फीसदी के साथ सबसे कम रही थी. हालांकि, कमोबेश अन्य वैश्विक नेताओं की तुलना में पीएम मोदी की अप्रूवल रेटिंग अपेक्षाकृत अधिक रही है. कनाडा के पीएम जस्टिन ट्रूडो और अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन को क्रमशः 42 फीसदी और 41 फीसदी की अप्रूवल रेटिंग मिली है. इस तरह दोनों नेता क्रमशः छठे और सातवें स्थान हैं. 33 फीसदी अप्रूवल रेटिंग के साथ सर्वे किए गए नेताओं में ब्रिटिश पीएम बोरिस जॉनसन सबसे निचले स्थान पर हैं.

सर्वे का मार्जिन ऑफ एरर कितना है?

अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन की अप्रूवल रेटिंग उनके राष्ट्रपति बने रहने के दौरान सबसे कम हो गई है. पिछले साल कोविड-19 मौतों में वृद्धि और अफगानिस्तान से अमेरिकी सैनिकों की जल्दबाजी में वापसी की वजह से बाइडेन की लोकप्रियता गिरना शुरू हो गई थी. यूक्रेन संकट और देश में चल रही अन्य समस्याओं की वजह से बाइडेन की अप्रूवल रेटिंग आने वाले दिनों में और गिर सकती है. मॉर्निंग कंसल्ट के मुताबिक, सर्वे किसी दिए गए देश में सभी वयस्कों के सात-दिवसीय मूविंग एवरेज पर आधारित रीयल-टाइम डेटा को दर्शाता है, जिसमें मार्जिन ऑफ एरर 1 से 3 फीसदी के बीच होता है. अमेरिका में औसत नमूना आकार 45,000 है, जबकि अन्य देशों में यह लगभग 3,000-5,000 के बीच है.

Lahar Ujala

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button